Bhupendra Yadav

भूपेंद्र यादव ने कहा है कि तीन लोजपा, भाजपा और जदयू मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। सीट-बंटवारे का विकल्प दो से तीन दिनों में मिटा दिया जाएगा।

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव की वोटिंग की तारीखों की घोषणा पिछले हफ्ते ही की गई है। लेकिन कौन सी पार्टी एक साथ चुनाव लड़ेगी और कौन प्रतिशत सीटों पर चुनाव लड़ेगी, यह अभी तय नहीं हुआ है। राजग और इसलिए विपक्षी महागठबंधन दोनों ने सीट बंटवारे को लेकर हंगामा खड़ा कर दिया है। इस बीच, बीजेपी नेता और बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव ने एनडीए को लेकर एक बड़ा बयान दिया है।

भूपेंद्र यादव ने कहा है कि तीन लोजपा, भाजपा और जदयू मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। सीट-बंटवारे का विकल्प दो से तीन दिनों में मिटा दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि हमें नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ना पड़ रहा है।

यह सीटों का समीकरण हो सकता है

खबर के मुताबिक, बीजेपी और जेडीयू 50-50 प्रतिशत सीटों पर चुनाव लड़ सकते हैं। बीजेपी अपने कोटे से लोजपा को सीटें देगी जबकि जेडीयू अपने कोटे से जीतन राम मांझी के हिंदुस्तान आवाम मोर्चा को सीटें देगी।

दूसरी ओर, एलजीपी ने बीजेपी से 27 सीटों की मांग की है, हालांकि बीजेपी सूत्रों के अनुसार, एलजीपी को केवल 10 से पंद्रह सीटें देने का प्रस्ताव है। आपको बता दें कि लोजपा ने 43 विधानसभा सीटों की मांग की थी, लेकिन अब लोजपा 27 सीटों पर आ गई है।

सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी-जेडीयू बिहार विधानसभा की 243 सीटों में से 50-50 प्रतिशत सीटों पर चुनाव लड़ सकती है, ऐसे में बीजेपी 121 विधानसभा सीटों पर और जेडीयू 122 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। बीजेपी अपनी 121 विधानसभा सीटों में से अधिकतम 15 सीटें एलजेपी को दे सकती है, जबकि जेडीयू अपनी 122 विधानसभा सीटों में से 5 से आठ सीटें जीतन राम मांझी के हिंदुस्तान आवाम मोर्चा को दे सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *